Sunday, January 23, 2022
rajdhani mail news app
HomeCrime खुद को जिंदा साबित करने के लिए सरकारी दफ्तरो के चक्कर काट...

 खुद को जिंदा साबित करने के लिए सरकारी दफ्तरो के चक्कर काट रही महिला

कन्नौज:- कन्नौज निवासी एक महिला जिसका नाम रज़िया है, ने पूर्ति लिपिक पर घूस न मिलने के चलते राशन कार्ड को निरस्त करने का आरोप लगाया है। रज़िया ने अपनी शिकायत मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर भी की है। रज़िया का यह आरोप है कि पहले गलत तरीके से मेरा कार्ड निरस्त कर दिया गया फिर जब दोबारा से सारी औपचारिकताएं पूरी कर आवेदन किया तो गलत रिपोर्ट लगा अपात्र घोषित कर दिया। इतना ही नही पालिका कर्मियों की उल्टी-सीधी कार्यशैली ने महिला को अजीवित साबित कर दिया। अब खुद को जिंदा साबित करने के लिये महिला सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रही है।

 कन्नौज के छिबरामऊ नगर पालिका कार्यालय के चक्कर काट रही यह महिला यहां के चौधरियान मोहल्ले मे रहने वाली रजिया है। 7 बच्चों की माँ रजिया का सरकार से मिलने वाले राशन से पूरे परिवार का भरण पोषण होता था परंतु, अक्टूबर में उसका राशन कार्ड निरस्त कर दिया गया। काफी दौड़ भाग के बाद उसने दूसरे राशनकार्ड के लिये सभी औपचारिकताएं पूरी करके राशन कार्ड का आवेदन किया तो उसे अपात्र घोषित कर दिया गया। रज़िया का आरोप है कि पूर्ति विभाग के लिपिक मनीष की ढाई हजार घूस की मांग न पूरी करने पर राशन कार्ड नही बन पा रहा। जब उसने लिपिक की शिकायत सीएम पोर्टल पर की तो 10 जनवरी तक कार्ड बनवाने का आश्वासन दिया गया। कार्ड बनने में लगने वाले जीवित प्रमाण पत्र लेने जब वह छिबरामऊ पालिका गयी तो वहां वह चौंक गयी। पालिका के अभिलेखों में रजिया की मौत हो चुकी है। खुद को जिंदा साबित करने के लिए वह तीन दिन से पालिका के चक्कर लगा रही है।

READ ALSO :- ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने ट्वीट कर बिजली दरों में कमी का किया बड़ा ऐलान

rajdhani mail news app
Desk Team
Desk Team is our official employee team who publishing the news for Rajdhani Mail.
RELATED ARTICLES
- Download Mobile App -rajdhani mail news app

Most Popular

you're currently offline