Politics

27 फरवरी को होंगे उत्तर प्रदेश में पाँचवे चरण के लिए मतदान  

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव(UP Assembly Election) के लिए 27 फरवरी को 5वें चरण के लिए मतदान होना है। बता दें, शुक्रवार शाम को 5वें चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार थम गया है। इस चरण में 12 जिलों की 61 सीटों पर मतदान होगा। मतदान होने वाले जिलों में प्रयागराज, अमेठी, सुल्तानपुर, चित्रकूट, गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती, रायबरेली, प्रतापगढ़, कौशांबी, बाराबंकी शामिल है। इन जिलों में रविवार को वोटिंग होगी। आपको बता दें, 5वें चरण में कुल 692 उम्मीदवार मैदान में उतरे हुए हैं। जिनका फैसला 61 सीटों के 2.24 करोड़ मतदाता करेंगे।

यदि बात आक्रामक चुनावी अभियानों की की जाये, तो बीजेपी और सपा इसमें सबसे आगे दिखाई पड़ते हैं। साथ ही प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने भी जमकर प्रचार किया। हालांकि, बसपा इस मामले में पीछे पड़ती नजर आ रही है।

भारतीय जनता पार्टी (BJP) की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अमित शाह (Amit Shah) प्रचार के लिए स्वयं मैदान में हैं। एक तरफ, पीएम मोदी ने प्रयागराज, बहराइच, अमेठी और कौशांबी में जनसभाएं करके परिवारवाद के मुद्दे पर विपक्ष पर निशाना साधा, तो वहीं दूसरी ओर, अमित शाह ने किसानों को सिचाई के लिए फ्री बिजली से लेकर होली और दिवाली पर फ्री गैस सिलेंडर जैसे वादे भी किए।
इस दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी अपने लोकसभा क्षेत्र अमेठी में शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित किया। जिसमें उन्होंने कहा, अगर बीजेपी सत्ता में आई, तो लड़कियों को फ्री स्कूटी दी जाएगी।

सूत्रों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने bhi बीजेपी की जीत का भरोसा जताया। उन्होंने कहा, “विपक्षी दल के नेताओं को पता है कि वे हारने वाले हैं इसलिए उन्होंने परिणाम घोषित होने के बाद विदेश जाने के लिए टिकट बुक कर लिया है।” आगे सीएम योगी ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा, “बुलडोजर बीजेपी के विकास का प्रतीक है। यह माफिया के मन में डर पैदा करने का भी तरीका है।”

कांग्रेस की ओर से प्रियंका गांधी चुनाव-प्रचार के लिए सामने आयीं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शुक्रवार को अमेठी में एकमात्र जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने बीजेपी की केंद्र सरकार पर भारत के रोजगार सेक्टर की कमर तोड़ने का आरोप लगाया।

इस जनसभा ने राहुल गांधी ने कहा, “भारत के रोजगार क्षेत्र की रीढ़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके दोस्तों ने तोड़ दी है। आप देखेंगे कि आने वाले समय में, इस देश के युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा, आप जितना चाहें उन्हें पढ़ाएं। मैंने कोरोना के समय जो बात कही, किसी ने नहीं सुनी। लेकिन बाद में सभी ने गंगा में शव जरूर देखे।”

प्रत्येक राजनीतिक पार्टियों को तरह ही समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष  अखिलेश यादव भी चुनाव-प्रचार के लिए आगे आए। उन्होने भी कई रैलियों को संबोधित किया। एक रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) पर निशाना साधा। अखिलेश यादव ने कहा कि, “सीएम योगी छात्रों को लैपटॉप बाटने का वादा कर रहे हैं, लेकिन वे खुद इसे चलाना नहीं जानते।” बता दें अखिलेश यादव ने सपा के सत्ता में आने पर 300 यूनिट फ्री बिजली देने के बादे को दोहराया है।

यह भी पढ़ें 

Desk Team

Desk Team is our official employee team who publishing the news for Rajdhani Mail.

Related Articles