नारी गौरव सम्मान से नवाजी गयी शिक्षिका अंजना मिश्रा

Report: Bhagwan Upadhyay

देवरिया: जनपद की लब्ध प्रतिष्ठित गीतकार कवयित्री व शिक्षिका अंजना मिश्रा (Anjana Mishra) को उनके उल्लेखनीय साहित्यिक योगदान के लिए विश्व हिन्दी लेखिका मंच ने वर्ष 2021 का नारी गौरव सम्मान सम्मान देकर सम्मानित किया है।

यह संस्थान पूरी दुनिया के महिला रचनाकारो की रचनाएँ आमंत्रित करना,नवोदित महिला रचनाकारो को लेखन के क्षेत्र में विविध अवसर उपलब्ध कराना, कवयित्रियो की पुस्तकों का प्रकाशन करना,लेखिकाओं को स्थलीय और अनलाइन माध्यमों से समय-समय पर भव्य सम्मान समारोह आयोजित कर सम्मानित करने जैसे महत्वपूर्ण कार्य करता है। इस मंच से कवयित्रियो की रचनाओं की गहन समीक्षा और मूल्याकंन के बाद समय-समय पर सुझाव भी दिया जाता है।

इस मंच से दुनिया के लगभग 53देशो की लेखिकाए जुड़ी हुई है।जो विविध भाषाओं में नियमित रचनाएँ कर मंच की शोभा बढाती हैं।यह मंच प्रत्येक वर्ष 25 श्रेष्ठ और प्रतिभाशाली महिला रचनाकारो को नारी गौरव सम्मान से अलंकृत करता है।इन्ही महिलाओं मे इस वर्ष शिक्षिका अंजना मिश्रा (Anjana Mishra) का चयन करते हुए संस्थान ने यह सम्मान प्रदान किया।

मंच के संस्थापक अन्तर्राष्ट्रीय अध्यक्ष और अटल साहित्य अकादमी के सचिव डा0 राघवेन्द्र ठाकुर के अनुमति से यह सम्मान अंजना मिश्रा (Anjana Mishra) को मिला है।देवरिया की धरती से पहली बार गीतकार कवयित्री व शिक्षिका अंजना मिश्रा (Anjana Mishra) को यह सम्मान दिया है।इसके पूर्व इस संस्थान द्वारा अंजना की रचनाओं और लेखों को समय-समय पर प्रशंसा के साथ प्रकाशित भी कर चुका है।

अंजना मिश्रा (Anjana Mishra) मूल रूप से उत्तर प्रदेश के देवरिया जनपद के भाटपाररानी तहसील के अन्तर्गत ग्राम सिकरहटा की निवासी हैं।विद्यार्थी जीवन से ही अंजना की रूचि शिक्षा और साहित्यिक के प्रति रही है।इन्होने बताया कि मनोयोग से शिक्षण कार्य करते हुए बेहतर ढंग से साहित्य,संगीत और कला के क्षेत्र मे योगदान सुनिश्चित करना ही लेखन का उद्देश्य है।

विद्यालय समय और गृहकार्य कार्य के बाद जो समय मिलता है उस दौरान यह गीत,कविता,मुक्तक,कहानी,समीक्षा आदि लिखने के साथ विविध रचनाओ के स्वर लय ताल राग रागिनी आदि का अभ्यास भी करती हैं।वर्तमान में यह बेसिक शिक्षा परिषद जनपद देवरिया मे भाटपाररानी विकास खण्ड के अन्तर्गत स्थित कम्पोजिट विद्यालय भाटपाररानी पर वतौर बेसिक शिक्षिका के पद पर कार्यरत हैं।

इस सम्मान के मिलने साहित्य शक्ति संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज प्राणेश जी संरक्षक वीरेन्द्र मिश्र बिरही जी,बृन्दावन राय सरल जी,वीनू शर्मा,एआरपी आमोद कुमार सिंह जी,अमित शर्मा,विपिन दुबे,अजय कुमार सिंह,कृष्णा देवी,संध्या मिश्रा, पुष्पा मिश्रा,सचि मिश्रा, सोनी जी,सुमन पांडेय गरिमा, गौरव संजीव सिंह जी,अमित गुप्ता मानवेंद्र मिश्र, राघवेंद्र पांडेय,मधुकर मिश्र,विवेक जी,रमेश चंद्रा,सतीश त्रिपाठी, शशिरंजन शुक्ल,धर्मेंद्र तिवारी, कुन्नू सिंह जी,बी एम उपाध्याय, संगीत सुभाष जी, सुभाषचंद्र यादव जी,प्रणव पराग,जय गोपाल व समस्त शिक्षक समाज आदि ने बधाई दी है।

यह भी पढ़ें