Wednesday, November 30, 2022
rajdhani mail news apprajdhani mail news app
HomePoliticsयोगी सरकार के निशाने पर आये स्वामी प्रसाद मौर्या, ठगी के मामले...
free website builderfree website builder

योगी सरकार के निशाने पर आये स्वामी प्रसाद मौर्या, ठगी के मामले एसटीएफ ने की तीन घंटे तक पूछताछ

TG-Web-Designing-Banner-ad

लखनऊ। हाल ही में सम्पन्न हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सपा में शामिल हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या पर योगी सरकार ने अपनी आँखें टेडी कर ली है। कभी योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्या से आज यूपी एसटीएफ ने अपने कार्यालय में तीन घंटे तक पूछताछ की। स्वामी से ये पूछताछ सरकारी नौकरी के नाम पर हुई ठगी के सिलसिले में हुई। दरासल यूपी एसटीएफ ने 21 अप्रैल को स्वामी प्रसाद मौर्या के पूर्व निजी सचिव अरमान खान सहित पांच लोगो को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान स्वामी एसटीएफ के कई सवालों का जवाब देने से बचते रहे। अधिकतर सवालों के जवाब में वह कोई जानकारी न होने की बात कहते रहे।

अरमान पर आरोप है कि उसने स्वामी प्रसाद मौर्य के मंत्री रहने के दौरान उनके निजी सचिव के केबिन में बैठकर कई दिन तक बेरोजगारों को बुलाया था। इन्हें सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर 10 से 12 लाख रुपये वसूले गये। कई लोगों को नियुक्ति पत्र थमा कर उनकी ट्रेनिंग भी करा दी गई। पर, बाद में सच सामने आ गया था। विरोध पर अरमान ने बेरोजगारों को धमकाना शुरू कर दिया था। इसके बाद ही एसटीएफ को जांच दी गई थी। एसटीएफ ने अरमान व उसके चार साथियों फैजी, विशाल, असगर और अमित को गोरखपुर से गिरफ्तार कर लिया था। इसी मामले में स्वामी प्रसाद मौर्य को एसटीएफ ने पूछताछ करने के लिये नोटिस भेजा था। एसटीएफ के अफसरों ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो स्वामी प्रसाद को दोबारा भी बुलाया जा सकता है।

 

free website builder
RELATED ARTICLES
- 50% Discount Offer -free website builderfree website builder
- Download Mobile App -rajdhani mail news app

Most Popular

you're currently offline