Tuesday, July 16, 2024
HomeUTTARAKHANDजिलाधिकारी ने देर रात्रि सोनप्रयाग से गौरीकुंड घोड़ा-पड़ाव तक यात्रा व्यवस्थाओं का...

जिलाधिकारी ने देर रात्रि सोनप्रयाग से गौरीकुंड घोड़ा-पड़ाव तक यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लिया

रुद्रप्रयाग: श्री केदारनाथ धाम में भारी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने को पहुंच रहे हैं। दर्शन करने पहुंच रहे श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कोई असुविधा एवं परेशानी न हो इसके लिए जिलाधिकारी स्वयं देर रात्रि को सोनप्रयाग से गौरीकुंड घोड़ा पड़ाव तक संबंधित अधिकारियों के साथ यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए स्थलीय निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने यातायात, स्वच्छता, सफाई, पार्किंग, लाइन मैनेजमेंट, स्वास्थ्य सुविधा एवं घोड़ा-पड़ाव में की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने संबंधित अधिकारियों को यात्रा मार्ग पर नियमित स्वच्छता अभियान चलाने के निर्देश दिए। वहीं देर रात्रि स्वयं गौरी गांव में सुलभ इंटरनेशनल के पर्यावरण मित्रों के साथ सफाई व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए यात्रा मार्ग की व्यवस्था भी कराई गई।

गौरीकुंड में अवस्थित उप स्वास्थ्य केंद्र में स्थानीय व्यापारियों द्वारा किए गए कब्जे को हटाया

यात्रा व्यवस्थाओं के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने उप स्वास्थ्य केंद्र गौरीकुंड का निरीक्षण करते हुए पाया कि स्वास्थ्य केंद्र में स्थानीय व्यापारी द्वारा अपना सामान रखा हुआ था जिसको जिलाधिकारी ने तत्काल हटवाते हुए संबंधित व्यापारी का 10 हजार का चालान भी करवाया गया। उन्होंने जिला युवा कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि उप स्वास्थ्य केंद्र का कब्जा अपने पास लेने के निर्देश दिए गए।

गौरीकुंड में यात्रा ड्यूटी में तैनात पीआरडी जवानों से भी मिलकर उनका हालचाल जाना।

जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान गौरीकुंड में यात्रा व्यवस्थाओं में तैनात तैनात पीआरडी जवानों से भी मिलकर उनका हालचाल जाना। इस दौरान जिलाधिकारी ने जिला युवा कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि यात्रा मार्ग एवं गौरीकुंड में तैनात पीआरडी के जवानों को रहने एवं खाने की कोई असुविधा न हो इसके लिए उन्होंने सभी पीआरडी जवानों की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी को अपने बीच पाकर सभी पीआरडी जवान उत्साहित दिखे और जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

जिलाधिकारी ने देर रात्रि तक संबंधित अधिकारियों के साथ यातायात व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया

यात्रा व्यवस्थाओं का निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष सोनप्रयाग को निर्देश दिए हैं कि यातायात व्यवस्था को दुरस्त रखा जाए तथा वाहनों को अनावश्यक सड़क के किनारे खड़ा न होने दिया जाए एवं व्यवस्थित ढंग से पार्किंग स्थल पर ही पार्क किया जाए ताकि जाम की स्थिति उत्पन्न न होने पाए। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों के साथ प्रातः 4 बजे तक यातायात सहित अन्य व्यवस्थाओं को भी सुदृढ करने के लिए मौके पर मौजूद रहे। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा श्री केदारनाथ धाम दर्शन करने पहुंच रहे यात्रियों से यात्रा व्यवस्थाओं के संबंध में भी फीडबैक लिया।

सूर्योदय के उपरांत यात्रा मार्ग मे संचालित हो रहे घोड़े-खच्चरों की व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया

जिलाधिकारी ने पैदल यात्रा मार्ग में संचालित हो रहे घोड़े-खच्चरों की भी जानकारी ली। उन्होंने पशु चिकित्सा अधिकारी एवं सेक्टर अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि यात्रा मार्ग में घोड़े-खच्चरों का संचालन सुव्यवस्थित ढंग से किया जाए तथा अनावश्यक रूप से घोड़े-खच्चरों को खड़ा न होने दिया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि यात्रा मार्ग में किसी भी घोड़े-खच्चर के साथ पशु-क्रूरता न हो। घायल एवं बीमार घोड़े-खच्चरों का किसी भी दशा में संचालन न हो। इस पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिए। बिना लाईसेंस व बिना हाॅकर के भी घोड़े-खच्चरों का संचालन न किया जाए। इस पर भी कड़ी निगरानी के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यदि कोई नियमों का पालन नहीं करता है तो उस पर नियमानुसार कार्यवाही की जाए।
इस अवसर पर उप जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग आशीष चंद्र घिल्डियाल, ऊखीमठ अनिल कुमार शुक्ला, परियोजना निदेशक विमल कुमार, जिला युवा कल्याण अधिकारी वरद जोशी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular