Sunday, May 26, 2024
HomeUTTARAKHANDबद्रीनाथ धाम कपाट खुलने की तैयारी , 15 कुंतल फूलो से सजाया...

बद्रीनाथ धाम कपाट खुलने की तैयारी , 15 कुंतल फूलो से सजाया गया मंदिर को

बद्रीनाथ धाम कपाट खुलने की तैयारी , 15 कुंतल फूलो से सजाया गया मंदिर। उत्तराखंड में चार धाम यात्रा शुरू हो चुकी है , वहीं कल 12 मई को भगवान बद्री विशाल के कपाट सुबह 6:00 श्रद्धालुओं के लिए दर्शन के लिए खोल दिए जाएंगे। भगवान बद्री विशाल के मंदिर को 15 कुंतल गेंदे के फूलों के साथ सजाया गया है , वही धाम में आर्मी के बैंड बाजों की धुन धाम में गूंजने लगी है श्रद्धालु बद्रीनाथ कपाट खुलने से पहले बद्रीनाथ धाम में पहुंचने शुरू हो चुके हैं , लगातार धाम में धीरे-धीरे भीड़ बढ़ने लगी हैं, बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने के अवसर पर हजारों श्रद्धालु साक्षी बनेंगे , प्रशासन की ओर से बिजली पानी तमाम बुनियादी सुविधाएं पूरी कर ली गई है , धाम में श्रद्धालुओं को कोई दिक्कत न हो उसके लिए प्रशासन ने पहले से पूरी तैयारी कर ली है। वहीं भगवान बद्री विशाल के कपाट श्रद्धालुओं के लिए दर्शनार्थ के लिए 12 मई को शुभ मुहूर्त में सुबह 6:00 बजे खोल दिए जाएंगे , धाम पहुंच रहे भक्तों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है ।

12 मई को सुबह 5 बजे से रावल धर्माधिकारी , वेदपाठि मंदिर द्वार में पूजा करेंगे और कपाट खोलने की प्रक्रिया शुरू , प्रातः शुभ मुहूर्त पर। सुबह 6 बजे मंदिर गर्भ गृह के द्वार खुलेंगे तथा मां लक्ष्मी जी गर्भ गृह से मंदिर परिक्रमा स्थित अपने मंदिर में विराजमान हो जाएगी , कुबेर जी बामणी गांव से आकर मंदिर परिसर से उद्धव के साथ मंदिर गर्भ गृह में विराजमान हो जाएंगे 6 बजे भगवान की चतुर्भुज मूर्ति में घृत कंबल की अलग कर अभिषेक उसके बाद भगवान बद्रीविशाल के सिंगार दर्शन होंगे उद्धव , कुबेर ,नारद , नर नारायण के दर्शन फिर शुरू हो जाएंगे ।

बद्रीनाथ धाम मंदिर परिक्रमा स्थित गणेश , घटाकर्ण ,आदि केदारेश्वर ,आदि गुरु शंकराचार्य मंदिर और माता मूर्ति मंदिर तथा तपोवन सुभाई ( जोशीमठ ) स्थित भविष्य बद्री मंदिर के कपाट भी इस यात्रा हेतु दर्शनार्थ खुल जाएंगे।

RELATED ARTICLES

Most Popular