World

नेपाल में चीन की गतिविधियों पर भड़की जनता

काठमांडू:- चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है।अब नेपाल में चीन की बढ़ते दखल से जनता की सब्र का बांध टूट चुका है। जिसकी वजह से नेपाल में लोग चीन के विरोध में सड़कों पर उतर आए हैं और चीनी राजदूत होउ यांकी  की फोटो को आग लगाकर अपना आक्रोश दिखा रहें है। नेपाल  के हिंदू नागरिक समाज ने आतंरिक मामलों में चीन की दखलनदाजी के खिलाफ राष्ट्रीय एकता अभियान के जरिए विरोध प्रदर्शन कर रहें है।

नेपाल में चीनी सरकार के बढ़ते हस्तक्षेप के खिलाफ काठमांडू की सड़कों पर सैकड़ों की तादात में प्रदर्शनकारी इकट्ठा होकर चीन के खिलाफ देश विरोधी नारे लगाते हुए कहा कि चीनी राजदूत को नेपाल के आंतरिक मामलों में अनावश्यक रूप से दखल करने की आदत छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने रासुवागढ़ी तातोपानी में अघोषित नाकाबंदी और राजनयिक सीमाओं को पार करने के लिए भी होउ यांकी को बुरी तरह की तंज कसा। काठमांडू में प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों के हाथ में कई तख्तियां दिखी जिनपर लिखा हुआ था ‘चीनी राजदूत यांकी वापस जाओ’।

काठमांडू में मंगलवार को जनकपुर के जनक चौक पर राष्ट्रीय एकता अभियान संगठन ने चीन के विरोध में जबरदस्त प्रदर्शन किया। चीन अपनी दखलंदाजी नेपाल में तमाम विवादास्पद मामलों में, राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक मसलों में बढ़-चढ़कर कर रहा है। जिसके चलते अब नेपाल की जनता में चीन के खिलाफ आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है।बता दें ड्रैगन देश चीन ने नेपाल में अपनी गतिविधियों को तेजी से बढ़ दिया है। अब ऐसे में चीन के इरादे को साफ तौर पर तो नहीं बताया जा सकता है, लेकिन कई महीनों से चीनी राजदूत की नेपाल सरकार के कामों में दखलंदाजी से जनता पर बुरा असर पड़ता दिखाई दे रहा है।

यह भी पढ़ें:- बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस पटरी से उतरी: हादसे में अबतक 9 की मौत!

Desk Team

Desk Team is our official employee team who publishing the news for Rajdhani Mail.

Related Articles